Mon. Mar 8th, 2021

10 बेहतरीन tips for Intercity Relocation 

Spread the love

Intercity relocation का मतलब है कि राज्य की सीमा से संबंधित सरकार के सभी नियमों का पालन करते हुए एक शहर से दूसरे शहर में सामानों को शिफ्ट करना। लेकिन जब यदि आप किसी दूसरे शहर में शिफ्ट होते है तो यह कार्य आपके और आपके परिवार के लिए एक चुनौतीपूर्ण और तनावपूर्ण कार्य हो सकता है। क्योंकिं घरेलू सामानों की पैकिंग और moving से संबंधित कार्यों की सूची और सामान की सुरक्षा से संबंधित तनाव घरेलू पुनर्वास की कठिन प्रक्रिया को भी चिंताजनक बनाता है।

इसलिए ऐसे परिवार जो आने वाले दिनों में एक शहर से दूसरे शहर जाने की योजना बना रहे हैं, ऐसे में उनके लिए सामान को सुरक्षित पहुँचाना के लिए पैकर्स एंड मोवेर्स को hire करना जरूरी हो जाता है। इसलिए पेशेवर कंपनियां इस प्रक्रिया को कुछ हद तक कम करने के लिए एक विकल्प हैं| हालाँकि, अन्य
युक्तियाँ हैं जो इस प्रक्रिया को आसान बनाने में मदद कर सकती हैं।

1. नए शहर के बारे में जानकारी होना
जब आप अपने सामान के साथ किसी अन्य शहर में स्थानांतरित करने की योजना बनाते हो तो आपको उस जगह के बारे में अच्छे जानकारी होनी चाहिए जहां पर आप अपने सामान के साथ शिफ्ट करने जा रहे हो और इसके आलावा आपको , स्कूलों, अस्पतालों, चिल्ड्रन पार्क आदि से जुड़ी जानकारी इकट्ठा करें और अपने नए घर में अपना जीवन बेहतर बनाएं।

2. hire packers and movers
यदि आपने अपनी घरेलू शिफ्टिंग की जरूरतों के लिए अपने best movers and packers की सहायता लेने का फैसला किया है, तो ShiftinIndia इन पर जाएं जो लंबे समय से अपने ग्राहकों को सबसे अच्छी सेवाएं प्रदान करने में अनुभवी हैं। हमारे स्टाफ कीमती चीजों की पैकिंग के लिए सबसे best packing material का प्रयोग करते है जो कीमती चीज़ों को बिना किसी टूट-फुट के आसानी से दूसरे स्थान पर पहुंचने में सहायता करते है इतना ही नहीं transport के लिए सबसे अच्छी technology का use करते है

Also read:- Best tips for hiring the trusted packers and movers

3. सामान की लिस्ट बनाएं
यदि आप अपने सामान के साथ move करते है तो आपको अपने सामान की लिस्ट बनानी चाहिए। क्योंकि सभी घरेलू सामानों की एक सूची तैयार करना बेहतर है जो आपके घर में हैं। आवश्यक और अनावश्यक लोगों में घरेलू सामानों को divide करें ताकि शिफ्टिंग की लागत बजट पर न जाए।
यह सूची यह समझने में मदद करेगी कि कौन से सामान पैक किए जाएंगे और पैकर्स और मूवर्स की help से स्थानांतरित किए जाएंगे और जिन्हें इस सूची से हटा दिया जाएगा। इस सूची के आधार पर, packers and movers आपके घरेलू स्थानांतरण के लिए moving लागत का अनुमान लगाएंगी।और
उसे लोड और अनलोड करते समय दोनों बार सामान की लिस्ट को check करना चाहिए


4. लागत कम करने के लिए बेकार वस्तुओं का निपटान करें
जिन वस्तुओं को आप अपनी list में शामिल नहीं करना चाहते हैं, उन्हें relocation के बोझ को कम करने के लिए निपटाया जाना चाहिए। इस कदम से, दूसरे शहर में शिफ्टिंग की लागत को कम करने में मदद मिलेगी क्योंकि packers and movers company द्वारा पैक और स्थानांतरित किए
जाने वाले सामानों की संख्या कम है। आप इस तरह के सामान को दान में दे सकते हैं या ऐसी वस्तुओं को बेच सकते हैं।

5. अपने कीमती सामान और दस्तावेजों को अलग रखें
आपको कीमती सामने की लिस्ट अलग बनानी चाहिए जैसे इस सूची में आभूषण, खराब खाद्य पदार्थ, व्यक्तिगत दस्तावेज, पेंट और अन्य संक्षारक आइटम जैसे आइटम शामिल न करें जिन्हें आपको दिल्ली, मुंबई या भारत के किसी अन्य शहर में मूवर्स और पैकर्स के साथ साझा करने की आवश्यकता होगी।

6. वाहन परिवहन सेवाएं प्राप्त करें
यदि आपके पास अपनी एक कार या बाइक है जिसे आप अपने सामान के साथ किसी अन्य शहर में स्थानांतरित करने की योजना बनाते हैं, तो आपको सुरक्षित वाहन स्थानांतरण के लिए बाइक या कार परिवहन सेवाओं को भी hire करना चाहिए। यदि आपके किराए के पैकर्स और मूवर्स ऐसी सेवाओं की पेशकश करने से
इनकार करते हैं या विफल रहते हैं, तो आप अपने वर्तमान शहर में वाहन शिफ्टिंग कंपनियों के लिए जा सकते हैं, जिनके पास एक सुचारू और सुरक्षित वाहन चलाने के लिए सभी सुविधाएं हैं। यह गतिविधि intercity relocation की तारीख से पहले की जानी चाहिए ताकि आपके द्वारा कोई अतिरिक्त खर्च न किया जाए।